Lohri Festival Essay in Hindi-लोहडी पर निबंध हिन्दी में

Essays

Lohri Festival Essay in Hindi-लोहडी पर निबंध हिन्दी में

लोहडी (Lohri Festival) पर निबंध हिन्दी में

Lohri 2020:-लोहडी एक सुप्रसिध्द त्योहार है । जिसे किसानी त्योहार भी कहते है । इसे मकर-सक्रांति के एक दिन पहले मनाई जाती है । इस त्योहार को खास रुप से पंजाबी परिवार के ही लोग मनाते है । वैसे इस त्योहार को समस्त-भारत देश में मनाई जाती है क्योकिं पंजाबी समुदाय के लोग समस्त-भारत में फ़ैले हुए है । लेकिन मुख्य-रुप से इसे पंजाब और हरियाणा राज्य में मनाए जाते है ।

इस दिन तमिनलाडु के लोग पोंगल तथा उतर-भारत में मकर-सक्रांति का त्योहार बहुत ही आनंद और उत्साह से मनाते है । लोहडी का त्योहार दो दिन तक चलता रहता है । पंजाब में जब किसान अपने फ़सल की कटाई कर लेते है तभी इस त्योहार को मनाते है ।

पंजाबियॊं के लिए यह त्योहार बहुत ही खाश होता है । लोहडी के एक दिन पहले ही कुछ बच्चें इकट्ठा होकर सभी के घरों में जाकर लोहडी का गीत गाकर लोहडी के लिए लकडियां, मेवा, रेवडीयां तथा मुंगफ़ली जमा करते है । शाम होते ही सभी लोग एक जगह इकट्ठा हो जाते है और आग जलाई जाती है ।

फ़िर सभी लोग मिलकर आग के चारो ओर चक्कर काटते हुए लोहडी के पारंपरिक-गीत को गाकर नाचते है गाते है और  आग में मुंगफ़ली, रेवडिया, मक्की और खील की आहुति देते है । फ़िर सभी लोग मिलकर आग के चारो ओर बैठ जाते है और आग सेंकते हुए रेवडी, मुंगफ़ली, खील, गजक तथा मक्का खाकर त्योहार का भरपुर आनंद लेते है ।

नई-नवेली दुलहन अर्थात जिसकी नई-नई शादी हुई हो तो उसके लिए यह पहली लोहडी बहुत ही खास होता है । सभी लोग नई दुलहन तथा नया बच्चा जन्मा हो-तो उसके घर जाकर सभी उसे बधाई देते है ।

पंजाबी परिवार इस त्योहार को बहुत ही अलग अंदाज से मनाते है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.